Monday, March 4, 2024

Share Market क्या है ? 2023 Men Isse Paise Kaise Kamaye?

Share Bazaar Se Paise Kaise Kamaye In Hindi

दोस्तों! आपने Share Market के बारे में अवश्य सुना होगा। और अपने आस-पास कई ऐसी कहानियां भी सुनी होंगी कि “भाई वो Share Market में पैसे लगाता है, आज करोड़ों में कमाता है” ये कहानियां सुनते-सुनते अक्सर हमारे दिमाग में बहुत सारे सवाल पैदा हो जाते है। कि जैसे- Share Market kya hai?, Share Bazaar men paise kaise lagaye? और इसमें कितने पैसे लगाये?

दोस्तों! आज हम आपको इस पोस्ट के माध्यम से Share Market का फुल ज्ञान देंगे। बस आपको ये पूरी पोस्ट पढनी पड़ेगी। इस आर्टिकल में हम आपको Share Bazaar से सबंधित सारी जानकारियाँ देंगे और साथ में इसके उन बिन्दुओं पर भी चर्चा करेंगे जो सामान्यतः बताये नहीं जाते है। तो अब बात करते है Share Market के विभिन्न पहलुओं के बारे में जो इस प्रकार है।

Share Market

Share Market क्या है?

दोस्तों! Share Market को हम इस तरह समझ सकते है कि जैसे गाँव में एक मेला होता है वहां विभन्न व्यापारियों व ग्राहकों के द्वारा एक ही जगह पर व्यापार किया जाता है। ठीक उसी तरह से Share Bazaar में भी एक जगह पर सभी खरीददार और विक्रेता व्यापार करने के उद्देश्य से एकत्रित होते है। और फिर अपने-अपने शेयर की खरीद फरोख्त करते है।

दोस्तों! कहने का मतलब है कि- Share Market एक ऐसा Centralized Platform है जहां सभी खरीदार और विक्रेता अलग-अलग कंपनियों के शेयरों में Business करने के लिए इकट्ठा होते हैं। और यहाँ पर दो बाते है एक कि- भौतिक शेयर बाजार पर ऑफ़लाइन व्यापार होता हैं, दूसरा ये कि- ट्रेडिंग प्लेटफॉर्म के माध्यम से ऑनलाइन व्यापार कर सकते हैं। याद रहे कि यदि आप ऑफ़लाइन व्यापार करते हैं तो अपने ट्रेडों को पंजीकृत ब्रोकर के माध्यम से रखना होता है।

साथियों! शेयर बाजार को Stock Market भी कहा जाता है। अपने भारत में दो शेयर बाजार हैं- बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज BSE(Bombay Stock Exchange)और नेशनल स्टॉक एक्सचेंज NSE (National Stock Exchange)। इनमें सार्वजनिक रूप से सूचीबद्ध कंपनियों (listed companies) और प्रारंभिक सार्वजनिक पेशकश IPO (Initial Public Offering) आयोजित करने वाली कंपनियों के पास ही ऐसे शेयर होते हैं जिनका कारोबार कर सकते है।

Share Market में शेयर की कीमतों का निर्धारण कौन करता है?

दोस्तों!Share Market में शेयर की कीमतों का निर्धारण मार्केट मांग और आपूर्ति (Demand and Supply) के सामान्य नियमों के अनुसार शेयरों की कीमतें निर्धारित करता है। खासकर जब कोई कंपनी तेजी से आगे बढ़ रही होती है, कंपनी बहुत अच्छा Profit कमा रही होती है या कंपनी के पास नए-नए ऑर्डर आ रहे हों तो शेयर कीमतें बढ़ जाती हैं।

प्रायः देखा गया है कि स्टॉक की मांग होने पर ज्यादा Investor अधिक कीमतों पर स्टॉक खरीदना चाहते हैं और इसी वजह से कीमत बढ़ जाती है। बड़ी-बड़ी कंपनियों को बड़े-बड़े प्रोजेक्ट लेने के लिए काफी पैसों की आवश्यकता होती है। वो इसका बॉन्ड जारी करके पैसा उठाते हैं और Bond Holder को उस प्रोजेक्ट पर हुए प्रोफिट्स के आधार पर भुगतान किया जाता है। बॉन्ड एक प्रकार के फाइनेंशियल इंस्ट्रूमेंट Financial Instrument होते हैं जहां पर निवेशक कई कंपनियों को पैसे देते हैं।

Share Market

स्टॉक सूचकांक (stock index)

दोस्तों! आज हम बात कर रहे है Share Market की स्टॉक सूचकांक (Stock Index) बनाने के लिए Stock Exchange में सूचीबद्ध कंपनियों से कुछ स्टॉक एक साथ जोड़े जाते हैं और उनका वर्गीकरण Company के आकार, उद्योग, मार्केट पूंजीकरण (market capitalization) या कोई और categories के आधार पर हो सकता है।

आपको बताते चलते है कि Sensex 30 कंपनियों के शेयर वाला सबसे पुराना इंडेक्स है और इसकी Free-float market capitalization में 45% का प्रतिनिधित्व है. Nifty में भी 50 कंपनियां है और फ्री-फ्लोट मार्केट कैपिटल के लगभग 62% अकाउंट शामिल हैं। अन्य सूचकांकों में Bankex, BSE Midcap या BSE Small Cap शामिल हैं।

Online Trading और Offline Trading

दोस्तों! Share Market में ऑनलाइन ट्रेडिंग का तात्पर्य यह है कि जब कोई अपने ऑफिस या घर पर बैठे-बैठे Internet पर शेयर खरीदता है या उसे बेचता है. हमें केवल अपने trading account को log in करने की आवश्यकता होती है। इसके विपरीत Offline Trading में हम अपने ब्रोकर के ऑफिस में जाकर या ब्रोकर को टेलीफोन करके उससे ट्रेडिंग डिस्कस करने के बाद शेयर खरीदना या बेचना होता है।

शेयर मार्केट में ब्रोकर की भूमिका

दोस्तों शेयर मार्किट में Broker हमें अपने शेयर को खरीद और बेचने में मदद करता है। आमतौर पर ब्रोकर खरीदारों को बेचने वाले के पास ले जाता है और बेचने वालों को खरीदने वालों से संपर्क करके उनकी मदत मदद करता हैं। अधिकतर Share Market के Broker यह सलाह देते हैं कि कौन सा स्टॉक खरीदना है और कौन सा स्टॉक बेचना है। शेयर मार्केट में पैसे कैसे निवेश करना है यह भी एक ब्रोकर ही सलाह देता है हलाकि उसकी ब्रोकरेज का भुगतान दिया जाता है।

Trading Account बनाम Demat Account

दोस्तों! Trading Account बनाम Demat Account में दोनों के बीच अंतर है। ट्रेडिंग अकाउंट वह एकाउंट होता है जहां आप अपनी खरीद और बेचने वाले ट्रेड को चलाते हैं। Demat Account वह एकाउंट होता है जहां पर शेयर Custody में रखे होते हैं। जब कोई अपने Trading Account में शेयर खरीदता हैं तो उसका बैंक अकाउंट डेबिट होता है और आपका डीमैट अकाउंट क्रेडिट हो जाता है। जब कोई शेयर विक्रय करता है तो ठीक इसका उल्टा हो जाता है।

Rolling Settlement क्या है?

दोस्तों! Share Market पर execute किया गया प्रत्येक ऑर्डर को सेटल किया जाना होता है। इसलिए खरीदारों को अपने शेयर मिलते हैं और विक्रेताओं को बिक्री के रूपये प्राप्त होते है। सामान्यतः Settlement सेटलमेंट वह प्रक्रिया है जिसमें खरीदार अपने शेयर और विक्रेता अपना पैसा प्राप्त करता हैं। जब सभी ट्रेड को दिन के अंत में सेटल करना होता है रोलिंग सेटलमेंट तब होता है।

सेबी क्या है?

दोस्तों! Sebi भारतीय प्रतिभूति और विनिमय बोर्ड (Securities and Exchange Board of India) भारत सरकार का गैर-संवैधानिक निकाय है जिसे संसद द्वारा सन 1992 को स्थापित किया गया था और सेबी का मुख्यालय मुंबई में स्थित है। सेबी का मुख्य उद्देश्य भारतीय स्टाक निवेशकों के हितों का ध्यान रखना और प्रतिभूति बाजार के विकास तथा नियमन को प्रवर्तित करना होता है।

इसके कार्य इस प्रकार हैं-

  • प्रतिभूति बाजार (securities market) में निवेशको के हितों का संरक्षण.
  • स्टॉक एक्सचेंजो तथा किसी भी अन्य प्रतिभूति बाजार के व्यवसाय का नियमन करना.

शेयर ट्रान्सफर एजेंट्स (Share Transfer Agents), ट्रस्टीज (Trustees), मर्चेंट बैंकर्स (Merchant Bankers), अंडर-रायटर्स (Under-writers), गोल्ड एक्सचेंज (Gold Exchanges), स्टॉक ब्रोकर्स (Stock Brokers), सब-ब्रोकर्स (Sub-Brokers), पोर्टफोलियो मैनेजर (Portfolio Managers) आदि के कार्यो का नियमन कर उन्हें पंजीकृत करना.

  • म्यूचुअल फण्ड (mutual fund) की निवेश योजनाओ को पंजीकृत करना.
  • प्रतिभूतियों के बाजार से सम्बंधित अनुचित व्यापार व्यवहारों को समाप्त करना.
  • प्रतिभूति बाजार से जुड़े लोगों को प्रशिक्षित करना.
  • प्रतिभूतियों की इनसाइडर ट्रेडिंग पर रोक.

कंपनियां लिस्टिंग का विकल्प क्यों चुनती हैं?

1-फंड जुटाने में आसानी होती है.
2-ब्रांड की छवि में सुधार आता है.
3-मौजूदा शेयर को Liquidate करना सरल हो जाता है.
4-पारदर्शिता और नियामक की निगरानी के के माध्यम से दक्षता लागू होती है
5-लिक्विडिटी (Liquidity) बढ़ती है और क्रेडिट की योग्यता भी बढ़ जाती है

Share Market Se Paise Kaise Kamaye

दोस्तों! अब आपके मन में सवाल ये उठ रहा होगा कि Share Market Se Paise Kaise Kamaye या शेयर मार्केट से पैसे कमाने के तरीके कौन-कौन से हैं। आज के डिजिटल युग में Share Market में निवेश करना आसान हो गया है। क्योंकि अधिकतर ब्रोकर ने मार्किट में अपनी Best Stock Trading Mobile Application लांच कर दी है। जिस पर यूजर घर बैठे मोबाइल से ही शेयर मार्केट में निवेश कर सकते है और इससे पैसे कमा सकते है.

दोस्तों! शेयर बाजार या स्टॉक मार्केट में पैसा कमाने के कुछ तरीके इस प्रकार से हैं –

  • कंपनियों के शेयर में निवेश करके पैसे कमाए.
  • म्यूच्यूअल फंड में निवेश करके पैसा कमाए.
  • IPO में लगाकर रूपये कमाए.
  • Intraday Trading से रोज शेयर मार्केट से पैसे कमाए.
  • शेयर Dividend से हर महीने पैसा कमाओ.
  • Stock Market Investment App को Refer करके पैसे कमाइए.

Quiz-

प्रश्न- स्टॉक मार्केट से कितना पैसा कमा सकते हैं?
उत्तर- भैय्या! स्टॉक मार्केट से कितना पैसा कमा सकते हैं इसका कोई सटीक उत्तर नहीं है। स्टॉक मार्केट से हम कितना कमा सकते हैं Bazaar पर निर्भर करता हैं।

प्रश्न- क्या मोबाइल से Online ट्रेडिंग कर सकते है?
उत्तर- जी हाँ! आजकल शेयर मार्केट के ऐसे बहुत सारे मोबाइल एप्प है जिनके माध्यम से आप घर बैठे ऑनलाइन ट्रेडिंग कर सकते है।

प्रश्न- शेयर मार्केट में एक दिन में कितना कमा सकते है?
उत्तर- ये उस दिन के बाजार कि कंडीशन पर निर्भर करता है।

प्रश्न- क्या शेयर मार्केट में इन्वेस्ट करने से पहले इसे समझने के लिए कोई कोचिंग लेनी पढ़ती है?
उत्तर- यह बहुत जरुरी है कि Share Market में इन्वेस्ट करने से पहले Bazaar के विभिन्न कारकों का सूक्ष्मता से अध्यन जरुर कर लेना चाहिए।

निष्कर्ष:-

दोस्तों! ये था आज का हमारा आर्टिकल Share Market क्या है? हमने इस पोस्ट में पूरी कोशिश कर रखी है कि आपको सरल से सरल शब्दों में Stock Market की पूरी जानकारी देने की और हमने इस पोस्ट में कम से कम शब्दों में ज्यादा से ज्यादा जानकारी देने की भरसक कोशिश करी है। हमें उम्मीद है कि आपको हमारी यह पोस्ट अच्छी लगी होगी और इसे आप अपने दोस्तों के साथ जरुर शेयर करे। और यह पोस्ट के बारे में हमें कमेन्ट करके जरुर बताएं।

 

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest Articles